ज़िंदगी और मैं

बिखरे हुए जवाब आपकेउलझे हुए ख्याल क्या पूछें हम आपसेअब कोई भी सवाल जवाब देते हैं बदले मेंसवाल दागकर सवालों के बदले मेरेमौंन धारकर…… ✍️ kavyakshra https://www.facebook.com/kvtvj9?mibextid=ZbWKwL

Read More ज़िंदगी और मैं

यादों की आहट

तेरी यादों की आहटअक्सर ये कमाल करती है मेरी हालत रहे बेहतरतो मुझे बहाल करती है मैंने दिल से तुझे चाहापर तू हासिल नहीं मुझको तेरी बेरुखी जो हालतमेरी बेहाल करती है…… kavyakshra ~काव्याक्षरा पूरी रचना पढ़िए 👇 https://www.facebook.com/100063470420174/posts/pfbid035qYUWTpcDwipkfeE6iLMAx4AZ2HEdo8oFgBMfwp3bKoCP2rLGE4PsFSFUFpvTdtul/?mibextid=Nif5oz

Read More यादों की आहट

इल्म

चलो! एक बार फिर सेयह इल्म खुद ही पालेंअपनी ही जिंदगी परहम फिर से नज़र डालें ..! कुछ खुशनवाइयाँ हैंया पेचीदगी हैं कुछ जोएक बार दिल की तह सेउन्हें फिर से आज़मा लें..! गुस्ताखियांँ, बेईमानियाँकी थीं किसी वजह सेमौका मिला है फिर तोवह वजह बदल डालें..! है महक ज़िंदगी मेंहमसफ़र के असर सेरूहानियत से अपनीचाहत […]

Read More इल्म

अनुयायी

हम किसी को लगातार तभी पढ़ते हैं जब उन विचारों से सहमत होते हैं अथवा जिनके विचार हमें प्रेरित करते हैं,उत्साहित रखते हैं। इस तरह सतत पढ़ते रहने पर हम शनैः शनैः उसी व्यक्तित्व में ढलने लगते हैं। एक समय पर हम वैचारिक स्तर पर उनके समान प्रतीत होने लगते हैं जिनके हम पाठक हैं!स्वयं […]

Read More अनुयायी

मृगतृष्णा

गरिमा ऐसी है उसकी किक्षणभर टिक नहीं सकतेकभी मिलने की सोचें तोकैसे सत्य छिपाएँ हम ••• उसके स्तर पर आकरहम कुछ कह नहीं पातेजीभर बातें करनी हों तोखुद को कैसे समझाएँ हम••• ~काव्याक्षरा पूरी रचना पढ़िए 👇 https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid0BRgMsV7d8PC5juuwGnXqTWvQSxN76iEyq2dEBUnztRNmS54hruBUp5c1F3NLc4pVl&id=100063470420174&mibextid=Nif5oz

Read More मृगतृष्णा

विचारों की गरिमा

खुशी की तलाश गर जो कीमती खुशी हैतो भाव ही बता दो सब लोग सोचते हैंदौलत से ये मिलेगी… ! हर सुख को है जुटायाजिसका भी था तसव्वुर पर खुशी क्या बला हैकिस चीज़ में मिलेगी…! स्वच्छंदता में मन कीवैभव में, भीड़ में भी ये तब न मिल सकीतो कब-कहाँ मिलेगी…! ढूँढ़ा भटक के दर-दरबाहर […]

Read More विचारों की गरिमा

गली

मेरे घर की जो #गली हैकई रास्ते हैं उसमें! हर रास्ते से जुड़तीएक और फिर गली है …!!! नुक्कड़ पर हर गली केचौराहे आ मिले हैं! सुनसान रास्ते हैंआबाद हर गली है …!!! ~काव्याक्षरा https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid02KwrRHdUM3rCrAWRRzqwvQe2ZGN1qabPNR7aJgeSAnE9e5LYgPeVHtAsrXr2xQqitl&id=100065217301359&mibextid=Nif5oz

Read More गली

अदायग़ी

कुछ ख्याल बेलिबासआ गए हैं ज़ेहन मेंलफ़्ज़ों की कतरनों कोअब सिल भी दूँ ज़रा … जामा #अदायगी काइस बार बन गया तोख्यालों को बाइज़्ज़तपेश कर भी दूँ ज़रा… रसोई में एक बेहतरीननज़्म पक रही हैलफ़्ज़ों की काँट-छाँटछौंकन कर भी दूँ ज़रा… एक मुकम्मल नज़्म भीतो खाने-सी लज़ीज़ हैहज़म हो सके एहसासतो तुम चख भी लो […]

Read More अदायग़ी

विचारों की गरिमा

बेबाक_ज़िंदगी ऐसा न हो ये ज़िंदगीबस ऐश में गुज़ार दोमनमौजियों की तरहहसरतों पे वार दो••• नेकी न हो सकी कुछबस झूठे किए गुमानदुश्वारियों से अपनीनसीहत हज़ार लो••• ग़ुरूर किसलिए जबअसलियत सामने हैखिदमत में उसकी अब तोनकाबें उतार दो••• काव्याक्षरा https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid0AnKr34Eo58gFQ55JSeZVraaidmUvm1U8oTY6tsTyuCjZtjHj1GAE1UuK1PZrCNCfl&id=100065217301359&mibextid=Nif5oz

Read More विचारों की गरिमा

विचारों की गरिमा

संभवतः यही सत्य है •••एकांतप्रिय होना हैमूल्यवान हो जाना परंतु आवश्यक है •••विचारों की प्रखरता कोबिखराव से बचा पाना परंतु ये भी सत्य है •••नैराश्य जीत पाना भीसबके वश की बात नहीं परंतु सदा स्मरण रहे •••उद्देश्य श्रेष्ठ जीवन काबस खो न जाए कहीं काव्याक्षरा https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid02UauVYpidXqHQ4KiVAHq5y2j75qi6hy9Btmc4zV2d2N7NZNM4YmgmRQNCCHpnstu4l&id=100065217301359&mibextid=Nif5oz

Read More विचारों की गरिमा