#सृजन…

प्रशंसित हो न हो अंतर्बोध हो रहा है हृदय समझ रहा है विचार परख रहा है…!!! मन है उल्लसित मस्तिष्क भी उन्मुक्त है प्रतिक्षण कुछ न कुछ अप्रतिम रच रहा है…!!! सृजन की तृषा में व्याकुल है लेखनी विश्वास भी संकल्पित उत्तिष्ठ हो रहा है…!!! अकल्पनीय अनुभूति में संवेदना की शक्ति है गरिमा युक्त लेखन […]

Read More #सृजन…

#धूप…

मैंने अपने घर को स्नेहासक्त प्रतीक्षारत देखा है धूप की… उज्ज्वल किरणें बिखेर जाती है धूप प्रति-दिवस प्रणय में बँधी… भोर की धूप और मेरे घर के बीच एक अनछुआ-सा संबंध है… नित्य आलिंगन-बद्ध होने का दोनों में एक अघोषित-सा अनुबंध है… #काव्याक्षरा *******************

Read More #धूप…

#कब्र…

नम हो गई निगाहें अश्कों के असर से तकाज़े में वफ़ा हारी किसका कुसूर था…!! मेरी कब्र पर गुलों की महक अब तलक बाकी है छाया किसी के ज़हन में मेरा सुरूर था…!! बीते हुए लम्हों को जीने की कोशिश में यादों को गुनगुनाने कोई आया ज़रूर था…!! आँसू के नमक से मिट्टी तक सफ़ेद […]

Read More #कब्र…

#काश…!!!

इश्क में सब कुछ भुला दूँ मैं काश! वो दिन न आ जाए मुहब्बत रोग बनकर जहन को बेज़ार न कर जाए…!!! ये दिल बीमार तेरा है दवा कोई काम नहीं करती बस एक दीदार के सदके मेरी ये जां न निकल जाए…!!! पूछ लो मुड़कर जो मेरा हाले-दिल मकसूद तो मेरे दर्द-ए-दिल खाकसार में […]

Read More #काश…!!!

#जीवन_संशय

हम आस्था-अनास्था के जाल में जकड़े हुए… ! विश्वास या अविश्वास की एक डोर को पकडे़ हुए… !! जीवन-मरण के चक्र में हम लक्ष्य से भटके हुए… ! सत्य और असत्य के संशय-भँवर में अटके हुए… !! आशा और निराशा के अंतर्द्वंद्व में झूलते… ! तृष्णा और वितृष्णा के हर चक्र में हम घूमते… !! […]

Read More #जीवन_संशय

#धूल

यूँ ज़िंदगी को हमने दिल की नज़र से देखा पर दिल के आईने पर जमी धूल को ना देखा….! वही रोज़ के थे मसले कुछ कहे-अनकहे से जब सोच के भंवर में जद्दोजहद को देखा…..! पौंछी जो गर्द दिल की दिल हल्का हो गया था हर तह में हमने दिल का अरमां सिमटते देखा…. ! […]

Read More #धूल

#लेखिका…

लेखिका होना भी कुछ सरल नहीं, मित्रो! विचारों की उधेड़बुन में योग्यताओं के समीकरण बदल जाते हैं…!!! पहले कहाते थे विशेषज्ञ पाक-कला के हम भी कभी आज खाना जल जाने पर निरे लापरवाह कहे जाते हैं ….!!! यूँ तो सुघड़ गृहणी का किरदार भी बखूबी निभाया हमने पर लिखने के जुनून में आज ज़रूरी काम […]

Read More #लेखिका…